Mothers Day Message




हमारे कुछ गुनाहों की सज़ा भी साथ चलती है, हम अब तन्हा नहीं चलते दवा भी साथ चलती है अभी ज़िन्दा है माँ मेरी मुझे कुछ भी नहीं होगा, मैं जब घर से निकलता हूँ दुआ भी साथ चलती है

दास्तान मेरे लाड़-प्यार की बस, एक हस्ती के गिर्द घूमती है, प्यार जन्नत से इसलिए है मुझे, क्योंकि ये भी मेरी माँ के क़दम चूमती है.

माँ से रिश्ता ऐसा बनाया जाऐ, जिसको निगाहों में बिठाया जाऐ, रहे उसका मेरा रिश्ता कुछ ऐसे कि, वो अगर उदार हो तो हमसे भी… मुस्कुराया ना जाऐ…

बच्चों को खिलाकर जब सुलादेती है माँ , तब जाकर थोडा सा सुकोन पाती है माँ ; प्यार कहते हैं किसे ? और ममता क्या चीज़ है ?, कोई उन बच्चों से पूछे जिनकी गुज़र जाती है माँ ;

माँ से रिश्ता ऐसा बनाया जाए, जिसको निगाहों में बिठाया जाए, रहे उसका मेरा रिश्ता कुछ ऐसा वो अगर उदास हो तो हमसे भी मुस्कुराया ना जाए. || हैप्पी मदर डे की हार्दिक शुभकामनाएँ ||

रब ने माँ को यह आज़मत कमाल दी, उसकी दुआ पर हर मुसीबत भी टाल दी… माँ के प्यार की कुछ इस तरह मिसाल दी, कि जन्नत उठाकर माँ के क़दमों में डाल दी!

माँ की ममता कौन भुलाये, कौन भुला सख्ता वो प्यार, किस तरह बताऊँ कैसे जी रहे हम, तू तोह बैठी परदेश में, गले तुझे कैसे लगाऊं, लेकिन भेज रहा है प्यार इस एसएमएस में, तेरा बेट्टा मेरी प्यारी माँ….

माँ अपने बच्चो पर सब निछावर करती है, बिना लालच उन्हें प्यार करती है, भगवान का दूसरा रूप है हमारी माँ जो हर दुःख में हमारा साथ देती है…. हम सबकी माँ के लिए….

एक हस्ती है जो जान है मेरी, जो जान से भी बढ़ कर शान हे मेरी, रब हुक्म दे तो कर दू सज्दा उसे, क्यूँ की वो और नही माँ है मेरी….. || हैप्पी मदर डे ||



मेरी प्यार की लिस्ट में है सिर्फ तुम्हारा नाम सिलेक्शन की भी लिस्ट में है सिर्फ तुम्हारा नाम तुम ही मेरी माँ और मेरी दोस्त हो मेरा प्यार हमेशा तुम्हारे साथ हो. || मदर डे की शुभकामनाएँ ||

प्यार करना कोई तुमसे सीखे प्यार कराना कोई तुमसे सीखे तुम ममता की मूरत ही नहीं, सब के दिल का एक टुकड़ा हो मैं कहती, कहता हूँ माँ, तुम हमेशा ऐसी ही रहना… || मदर्स डे की हार्दिक शुभकामनाएँ ||

एक हस्ती है जो जान है मेरी, जो जान से भी बढ़ कर शान है मेरी, रब हुक्म दे तो कर दू सजदा उसे, क्यूँ की वो और नही माँ है मेरी….. मातृ दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं

मंजिल दूर और सफ़र बहुत है छोटी सी जिन्दगी की फिकर बहुत है मार डालती ये दुनिया कब की हमे लेकिन “माँ” की दुआओं में असर बहुत है मदर्स डे की हार्दिक शुभकामनायें

जब मैने कुदरत के बारे मे सोचा, तो सिर्फ़ एक शख्स मे उनका रुप नज़र आया वो हे “माँ” मदर्स डे की हार्दिक शुभकामनायें

ना जहाँ की तिज़ारत काम आयी ना किसी की नज़ाक़त काम आयी जिंदगी के हर मोड़, हर कदम पर मुझे “माँ” की इबादत काम आयी मदर्स डे की हार्दिक शुभकामनायें

जलता रहता हूँ हर पल इस आलीशान मकान वाले शहर में । इस से अच्छा तो गांव था आँचल मे छिपा लेती थी मां मुझे धूप देख दोपहर में । मदर्स डे की हार्दिक शुभकामनायें

कौन सी है वो चीज़ जो यहाँ नहीं मिलती, सब कुछ मिल जाता है लेकिन “माँ” नहीं मिलती, माँ-बाप ऐसे होते हैं दोस्तों जो ज़िन्दगी में फिर नहीं मिलते, खुश रखा करो उनको फिर देखो जन्नत कहाँ नहीं मिलती. मातृ दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं

मन की बात जान ले जो, आँखों से पढ़ ले जो, दर्द हो या चाहे ख़ुशी, वो हस्ती जो बेपन्ना प्यार करे, माँ ही तो है जो बच्चो के लिए जिए….. मातृ दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं

सबकुछ मिल जाता है दुनिया में मगर, याद रखना की बस माँ-बाप नहीं मिलते, मुरझा कर जो गिर गए एक बार डाली से, ये ऐसे फूल हैं जो फिर नहीं खिलते।

रूह के रिश्तों की ये गहराइयाँ तो देखिये, चोट लगती है हमें और चिल्लाती है माँ, हम खुशियों में माँ को भले ही भूल जायें, जब मुसीबत आ जाए तो याद आती है माँ।

सीधा साधा भोला भाला मैं ही सब से सच्चा हूँ, कितना भी हो जाऊं बड़ा माँ आज भी तेरा बच्चा हूँ।

यूँ तो मैंने बुलन्दियों के हर निशान को छुआ, जब माँ ने गोद में उठाया तो आसमान को छुआ।




Share this :